दिव्यकीर्ति सम्पादक-दीपक पाण्डेय, समाचार सम्पादक-विनय मिश्रा, मप्र के सभी जिलों में सम्वाददाता की आवश्यकता है। हमसे जुडने के लिए सम्पर्क करें….. नम्बर-7000181525,7000189640 या लाग इन करें www.divyakirti.com ,
7k Network

होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.
7k Network

दो पक्षों में दुकान के लिए विवाद, एक पक्ष खाली करने लिए जद्दोजहद तो दूसरे ने जमाया कब्जा

बुढार के सक्रिय भूमि दलालों की दुकान खरीदने के लिए लगी मण्डी

शहडोल।।बुढार

शहडोल जिले की को़यलांचल नगरी बुढ़ार में जिया फैशन हाउस नामक दुकान के संचालक और दुकान के मालिक का विवाद सामने आया है। एक तरफ जहां दुकान मालिक को परिजन आज सुबह दुकान के अंदर जाकर उसे खाली करनें का दबाब बनानें लगे वहीं दुकान के सामनें ताला लगाकर वह बैठे हुये हैं उनका आरोप है कि वह लंबे समय से दुकान को खाली करनें को कह रहे हैं । लेकिन दुकान संचालक उन्हें न तो पैसा दे रहा है और न ही उस दुकान को खाली कर रहा है मजबूरन उन्हें यह कदम उठाना पड़ा।

क्या बोले भू स्वामी के परिवार

भूमि स्वामी के परिवार के परिजनों नें बताया कि उन्होनें कई बार दुकान संचालक मुनव्वर को दुकान खाली करनें को कहा लेकिन वह खाली नहीं कर रहा था ।और अपनी शर्तों पर दुकान को खरीदने की बात कह रहा था। जिसकी सूचना इन्होनें थानें से लेकर तमाम अधिकारियों को भी दी

बीमार मालिक इलाज के लिए मोहताज..

दुकान मालिक के परिजनों नें यह भी बताया कि आज इस दुकान का मूल स्वामी गंभीर रुप से बीमार है ।उसके ईलाज में लाखों रुपये खर्च हो रहे हैं ऐसे में उन्हें पैसे की भी सख्त आवश्यकता है वह किसी तरह अपना जीवन यापन करते हैं और कई बार दुकान खाली करनें को कह चुके हैं ताकि उससे वह अपना आर्थिक संकट दूर कर सके लेकिन दुकान का संचालक कब्जा करनें की नियत से दुकान खाली नहीं कर रहा है ऐसे में उनके पास कोई रास्ता नहीं बचा और वह परिवार सहित दुकान पर ताला लगाकर दुकान खाली होनें तक बैठनें पर मजबूर हो गये।

मुन्नवर ने खारिज किया आरोप

पीड़ित पक्ष के आरोपो को खारिज करते हुए मुन्ननवर अली ने बताया कि पूर्व में मेरे भू स्वामी के साँथ अच्छे ताल्लुकात थे जिसके कारण इन्होंने मुझे इस जमीन पर कंस्ट्रक्शन करने के लिए अपनी हांमी भर दी थी मैने नीचे दुकान के ऊपर अपने पैसे से दुकान बनाया है जिसका मैं अभी भी लोन चुका रहा हूँ। जबकि जिस दुकान को मैं किराए से लिया था उसमें मेरे 75 लाख के फर्नीचर लगे हैं और लगातार मैं इन्हें किराया देता आ रहा हूँ । भू स्वामी आज दुकान की तरक्की देखकर अपना नीयत बदल रहे हैं और इनके साँथ जितने भी दलाल घूम रहे हैं वो जमीन के सक्रिय दलाल हैं और अब वो मेरे दुकान को जमीन मालिक को आगे करके अच्छे दामों में खरीदना चाहते हैं।

बुढार के चर्चित भू माफिया भी दिखे इर्दगिर्द

कालेज तिराहे का यह मकान आज शहरीकरण के कारण करोड़ो का हो चुका है जिस पर गिद्ध की नजर टिकाए जमीन के चंद दलाल भू स्वामी को बरगलाने की फिराक में थे और पूरे दिन भू स्वामी के साँथ मजमा जमाए बैठे थे।

इन कारोबारियों में पुराने जमीन दलाल शफीक, प्रकाश, गुडडू, शहजादा सलीम,जैसे लोग पूरे दिन भू स्वामी के साँथ चक्कर लगाते रहे।

Divya Kirti
Author: Divya Kirti

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!