दिव्यकीर्ति सम्पादक-दीपक पाण्डेय, समाचार सम्पादक-विनय मिश्रा, मप्र के सभी जिलों में सम्वाददाता की आवश्यकता है। हमसे जुडने के लिए सम्पर्क करें….. नम्बर-7000181525,7000189640 या लाग इन करें www.divyakirti.com ,
7k Network

होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.
7k Network

जंगल से अनवरत चोरी हो रही बेशकीमती लकडियाँ विभाग की गश्ती पड़ा सुस्त

 

 

जंगल से अनवरत चोरी हो रही बेशकीमती लकडियाँ
विभाग की गश्ती पड़ा सुस्त

रोहित वर्मा-9131534570

बुढार।।
जल जंगल जमीन को सुरक्षित रखने के तमाम कवायद किए जा रहे हैं किंतु धरातल पर इसकी रक्षा करने वाले जिम्मेदार इसे सुरक्षित करने में निष्क्रिय नजर आ रहे हैं
बुढार वन परिक्षेत्र अन्तर्गत बंगवार के जंगल में जोरों से लकड़ियाँ चोरी हो रही है। बड़े-बड़े पेड़ों को काट कर बेची जा रही है बीट प्रभारी से लेकर डिप्टी रेंजर के नाक के नीचे से लकडियाँ चोरी हो रही हैं। जानकार बताते हैं कि इन जंगलों से रोजाना बेशकीमती जंगली लकडियाँ निकल चोरी हो रही हैं हमारे सूत्रों ने बताया कि कई फर्नीचर की दुकानों से विभाग के जिम्मेदारों के सांठगांठ रहते हैं जिससे आए दिन जंगल उजड़ रहे हैं और वन विभाग विसिल मारने में व्यस्त है।

जब हमने माँमले में डिप्टी रेंजर से बात किया उन्होंने बताया कि लकडियाँ जप्त हो गई हैं और कार्यवाही चल रही है ।
किन्तु हमने पड़ताल किया तो ज्ञात हुआ कि इतने बड़े-बड़े पेड़ों की लकडियाँ जंगल से बिना सपोर्ट के कैसे निकाली जा रही हैं।
लगातार हो रहे वनों के दोहन से पूरे पर्यावरण को क्षति हो रही है शुद्ध वायुमंडल न होने से नाना प्रकार की बीमारियां फैल रही हैं किंतु अभी तक विभाग जंगल की चोरी रोकने में नाकाम है।

Divya Kirti
Author: Divya Kirti

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!