दिव्यकीर्ति सम्पादक-दीपक पाण्डेय, समाचार सम्पादक-विनय मिश्रा, मप्र के सभी जिलों में सम्वाददाता की आवश्यकता है। हमसे जुडने के लिए सम्पर्क करें….. नम्बर-7000181525,7000189640 या लाग इन करें www.divyakirti.com ,
7k Network

होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.
7k Network

हे केशव! कब तक चौकसे को आगे रख जमीन की लीला करते रहोगे

 

विनय मिश्रा…

नर्मदागंज से गोपालपुर तक भूमाफियाओं का मकड़जाल

प्रशासन को गुमराह कर कराई जा रही रजिस्ट्री

कृषि भूमि बताकर शासन के टैक्स में भी हेरफेर

मार्ग डिवाइडर पर ही कर दिया भवन निर्माण

कोयलांचल नगरी बुढार में कई ऐसे स्थान हैं जहाँ आज जमीन की कीमतों में जमकर इजाफा हुआ है या यूं कहें कि कौड़ियों में बिकने वाली जमीन की कीमत आज करोडों में हो गई हैं बुढार हाईवे से लगे जमीन पंचवटी, कटकोना, रूंगटा, झगरहा, ओपीएम, हाथीडोल, सरईकापा, गोपालपुर,
नर्मदागंज, अहिरगवां, में बढ़ती शहरीकरण के कारण आज लोगों की जरूरतें बढ़ गई हैं और बाहर से आए लोग बसने के लिए जमीनों की तलाश में फिरते हैं जिन्हें कई बार जमीन के दलाल खासा टोपी पहनाते हैं जमीन कहीं और पजेशन कहीं और नक्शा तरमीम कहीं और का इस तरमीम के खेल में तहसील का एक सिपाही जीवेंद्र अरसों से जमीन उलट-पुलट कर रहा है यानी पीछे की जमीन आगे और आगे की जमीन पीछे करने में यह शख्स माहिर है।
अगर उंगलियों में गिनाए जाएं तो बुढार में चिन्हित जमीन दलाल हैं जिनका तहसील के आसपास से लेकर जमीन के इर्दगिर्द डेरा छाया रहता है।

बुढार।।

हीरा कालोनी के विकास होने और क्षेत्रफल में बढ़ने के कारण गोपालपुर रोड अच्छा खासा विकसित हुआ कई हिस्से आज इसके ग्राम पंचायत की जगह नगर पालिका में समाहित कर लिए गए जिसके कारण ग्राम पंचायत और शहर का मिश्रण हो गया और ग्राम पंचायत की जमीनों को शहरीकरण का चोला पहनाया जा रहा है। कभी नर्मदा गंज में गफलत फरमाने वाले जमीनों के दलाल आज गोपालपुर की ओर अपना नजर गड़ा लिए हैं ।
जनचर्चा है कि गोपालपुर का अहिरगवां क्षेत्र कुछ ही महीनों में कालरी का हिस्सा होने जा रहा है जिसका फायदा उठाकर इसके निकट जमीन को करोड़ो के दाम में बेंचा जा रहा है। गोपालपुर रोड स्थित अहिरगवां में खसरा क्रमांक 143/2 में भूमाफियाओं द्वारा कृषि, झुंड़पी जंगल जमीनों को ठिकाने लगाया जा रहा है जिसकी जाँच आवश्यक है। जिसमे तहसील बुढार को पत्रकारों ने शिकायत करते हुए लिखा है कि राजस्व ग्राम अहीरगवाँ पटवारी हल्का गोपालपुर तहसील बुढ़ार की आराजी खसरा क्रमाक – 143/2 में गोपालपुर अहिरगवा मार्ग से चल रही प्लाटिंग में कुछ बिंदु संदेहास्पद जिनकी जांच किये जाना आवश्यक है।

1. यह है कि भूमाफियाओ द्वारा गोपालपुर व अहिरगवाँ जाने वाले मुख्य मार्ग के बीचो बीच एक भवन निर्माण कराया जा रहा है जो भविष्य में किसी दुर्घटना को आमंत्रित करने के संकेत है।

2. यह है कि भवन के बगल से ही ग्राम पंचायत का एक पुराना पुलिया था पुलिया से पानी की निकासी होकर किसानो के खेतों के लिए सिंचित पानी आपूर्ति होती थी वर्तमान में उस पुलिया को भी बाधित कर लिया गया है।

3. यह है कि नियमत: किसी भी खसरा क्रमांक में तीन प्लाट से ऊपर एक ही व्यक्ति रजिस्ट्री नहीं करा सकता अगर तीन प्लाट से अधिक का विक्रय करते है तो रजिस्ट्री के पूर्व TNCP के समस्त मापदंडों को पूर्ण करना पड़ता है जो कथित तौर पर संदेहास्पद है।

4. यह है कि ग्राम पंचायत जाने वाले मार्ग पर स्थित प्लाट प्रधानमंत्री ग्रामीण सडक योजना मार्ग से होकर जाता है इस मार्ग से ही प्लाट सटा हुआ निकट भविष्य में मार्ग चौडीकरण में भी यह प्लाट अवरोध उत्पन्न करता है जो एक जांच का विषय है।

5. यह है कि भूस्वामियों द्वारा कराई गई रजिस्ट्रियों में कृषि की भूमि बताकर रजिस्ट्री कराते है जिससे सरकार की स्टाम्प ड्यूटी की चोरी कर सके जो एक जाँच का विषय है।

Divya Kirti
Author: Divya Kirti

ये भी पढ़ें...

7k Network
error: Content is protected !!