दिव्यकीर्ति सम्पादक-दीपक पाण्डेय, समाचार सम्पादक-विनय मिश्रा, मप्र के सभी जिलों में सम्वाददाता की आवश्यकता है। हमसे जुडने के लिए सम्पर्क करें….. नम्बर-7000181525,7000189640 या लाग इन करें www.divyakirti.com ,
7k Network

होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.
7k Network

हर मोड़ पर सुराप्रेमियों के ठीहे,पूर्व गृहमंत्री के संदेश बन्द लिफाफे में कैद….

 

प्रदेश में सरकार भले ही नही बदली पर चेहरे बदल गए मप्र में नए चेहरों के साँथ सरकार ने प्रदेश की मानीटरिंग शुरू कर दी है। बीजेपी सरकार के ही फरमान बीजेपी शासन में दिखावे के लिए रह गई है और पूर्व में जारी आदेश मानो बन्द कमरे के बन्द लिफाफे में दफन हो गए।शहडोल जिले में सुरा प्रेमियों के लिए मानो होटल, रेस्टोरेंट और अहाते अब ऐशगाह बन गए हैं।पूर्व गृहमंत्री ने अपने जारी बयान में कहा था कि प्रदेश के सभी अहाते बन्द हो जायेंगे और शराब पीने के लिए आप किसी अन्यत्र स्थान का चयन करें किन्तु समय बीतने के साँथ गृहमंत्री के वह फरमान भी किसी सीमित बयान की तरह सीमित रह गए ।
शहडोल के अलग-अलग होटलों और ठिकानों में बकायदे शराब पिलाई जाती है बन्द कमरे के नाम पर अहाते भले ही न खुले हों पर उन्हें आजादी अहाते की तरह ही दी गई है।

हाँ-यहां सुराप्रेमियो के ठीहे…

बुढार,श्रीवास्तव मोड़ ओपीएम,धनपुरी, धनपुरी तीन नम्बर,में चल रहे रेस्टोरेंट और अहाते भले ही बिना लाइसेंस के शराब पिला रहे हैं किंतु उन्हें पुलिस और सम्बंधित विभाग का मौन लायसेंस जरूर प्राप्त है।

गरीबों के लिए अलग कानून व्यवस्था…

हमने कई बार जिक्र किया है कि हमारे संविधान में दोहरी नागरिकता के साँथ दोहरी कानून व्यवस्था भी है जहाँ गरीबो के लिए अलग कानून और अमीरों के लिए अलग कानून; कार्यवाही की इस कड़ी में विभाग छोटे तपके के अहाते या होटलों पर जरूर दबिश देती है किंतु बड़े पैमाने पर होटल रेस्टोरेंट चलाने वाले अमीरों की दुकानों होटलों पर शायद ही विभाग की नजर जाती हो।
खैर यह कहना या लिखना लाजमी है कि पूर्व गृहमंत्री के संदेश अपने ही सरकार में वायदा खिलाफी साबित हो रहा है।

Divya Kirti
Author: Divya Kirti

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!