दिव्यकीर्ति सम्पादक-दीपक पाण्डेय, समाचार सम्पादक-विनय मिश्रा, मप्र के सभी जिलों में सम्वाददाता की आवश्यकता है। हमसे जुडने के लिए सम्पर्क करें….. नम्बर-7000181525,7000189640 या लाग इन करें www.divyakirti.com ,
7k Network

होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

कक्षाओं की किताबों को अच्छे से करें अध्ययन:एडीजीपी


📌किताबों को बनाए अपने जीवन का हिस्सा- कलेक्टर

📌एडीजीपी और कलेक्टर ने फीता काट कर किया विराट पुस्तक मेला का शुभारंभ

▶️ कक्षा नर्सरी से बारहवीं तक की किताब, स्टेशनरी, बैग, स्कूल ड्रेस एवं अन्य सामग्री अभिभावकों को उचित मूल्य पर सुलभ हो सके इस हेतु संभागीय मुख्यालय शहडोल के शासकीय रघुराज उत्कृष्ठ उ.मा.वि के सभागार में तीन दिवसीय पुस्तक मेला का शुभारंभ एडीजीपी डीसी सागर, कलेक्टर  तरुण भटनागर , पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक ने फीता काटकर शुभारंभ किया।
तीन दिवसीय पुस्तक मेला के शुभारंभ अवसर पर एडीजीपी श्री डीसी सागर ने कहा की विद्यार्थी कक्षाओं की किताबो को गहन अध्ययन करें, इन किताबों को अच्छे से पढ़ने में आगे की पढ़ाई में काफी सहूलियत होती है। उन्होंने कहा कि किताबों को पढ़ने से जिंदगी सुधार जाएगी। उन्होंने कहा कि पढ़ाई करते समय पढ़ाई का ही कार्य करें अन्य दूसरा कार्य न करें। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी मोबाइल का उपयोग सकारात्मक रूप से करें सोशल मीडिया से दूर रहे, और उपलब्धियां हासिल करें। उन्होंने कहा कि यातायात नियमों का पालन करें और गाड़ी चलाते समय मोबाइल का उपयोग न करें।

इस अवसर पर कलेक्टर ने कहा कि अभिभावक, विद्यार्थी व अन्य लोग किताबों को अपने जीवन का एक हिस्सा बनाएं, किताबों को पढ़ें और ज्ञान प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि किताबों को पढ़ने से व्यक्ति के व्यक्तित्व में निखार आता है, किताबो को स्वयं पढ़े और दूसरों को भी पढ़ने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि पुस्तक मेले का आयोजन का उद्देश्य अभिभावकों को बच्चों के लिए किताबें, ड्रेस व अन्य सामग्री स्वतंत्र रूप से प्राप्त हो सके। उन्होंने कहा कि स्कूल संचालक दिशा निर्देशों का पालन करें फीस नियमानुसार निर्धारित करें जिससे अभिभावको पर बोझ न बने। उन्होंने कहा कि अभिभावक विद्यार्थी पुस्तक मेले में आए और इसका लाभ ले। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार आने वाले दिनों में भी पुस्तक मेले का आयोजन किया जाएगा।

 

शुभारंभ अवसर पर पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक ने कहा कि पुस्तक मेला यह अद्भुत कार्यक्रम है। उन्होंने कहा की पुस्तक विद्यार्थियों के पक्के मित्र होते हैं, पुस्तकों को लगातार पढ़ते रहना चाहिए, पुस्तक पढ़ने से ज्ञान में वृद्धि होती है। कार्यक्रम को मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत राजेश जैन, संयुक्त संचालक शिक्षा सहदेव मरावी सहित अन्य लोगों ने अपने विचार व्यक्त किए।

इस अवसर पर सहायक आयुक्त जनजाति कार्य विभाग आनंद राय सिन्हा, जिला शिक्षा अधिकारी फूल सिंह मरपाची सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन जन अभियान परिषद के जिला समन्वयक विवेक पांडे ने किया।
तीन दिवसीय विराट पुस्तक मेले का एडीजीपी डीसीसागर, कलेक्टर तरुण भटनागर, पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक सहित अन्य अधिकारियों ने निरीक्षण किया तथा पुस्तक,ड्रेस व आदि की जानकारी प्राप्त की।

Divya Kirti
Author: Divya Kirti

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!