दिव्यकीर्ति सम्पादक-दीपक पाण्डेय, समाचार सम्पादक-विनय मिश्रा, मप्र के सभी जिलों में सम्वाददाता की आवश्यकता है। हमसे जुडने के लिए सम्पर्क करें….. नम्बर-7000181525,7000189640 या लाग इन करें www.divyakirti.com ,
7k Network

होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

गोफ पर ‘होप’ भूमाफियाओं का जुगाड़

 

गोफ की जमीन को ठोस होने का दावा कर रहा बंटल

कालरी के जिम्मेदार भी अंजान

जिले में जारी नोटिस, कब पहुंचेगा कोयलांचल

बिना नियम कायदों के कालोनी बनाने की तैयारी

कलेक्टर साहेब!कभी यहाँ भी नजर डाल लें

 

कोयलांचल में सैकड़ो ऐसे भूमि प्लाटिंग हैं जहाँ नियम कायदों को दरकिनार किया गया है न ही किसी प्रकार की अनुमति न ही मापदण्डो का पालन।
आलम ये है कि हर कोने में कुकुरमुत्तो की तरह भूमाफिया तैयार हो गए और मजबूर-मजलूम लोगों की खेतिहर भूमियों को कौड़ी के दाम खरीदकर उन्हें करोड़ो में बेंच रहे हैं इस पूरे खरीद-फरोख्त में निचले स्तर से लेकर ऊपर स्तर के अधिकारियों की मिलीभगत न हों ऐसा तो मुनासिब नही।

बुढार।।

रूंगटा मोड़ से सटे हाइवे में मार्ग में अवैध प्लाटिंग व जमीन काटोबारियो की एक लम्बी कतार हैं ग्राहकों को सब्ज-बाग दिखाकर चारो ओर कालोनी की तर्ज पर प्लाटिंग कर मन मुताबिक रेट तय कर जमीन बेंच रहे हैं ।

कलेक्टर ने किए सख्त नियम फिर भी जुगाड़ जारी

बीते दिनों मप्र के मुख्यमंत्री समेत स्थनीय कलेक्टर ने अवैध कालोनियों के खिलाफ सख्त रवैया अपनाया हुआ है किंतु बुढार कोयलांचल नगरी में शायद यह नियम औपचारिकता ही रह गया है और अभी तक प्रशासन द्वारा कोयलांचल में होने वाले अवैध प्लाटिंग व कालोनियों पर कार्यवाही नही की गई और न ही कार्यवाही के लिए पहल की गई है।

एकड़ो में कट रही प्लाट, रेरा और टीएनसीपी बेकार

रूंगटा मोड़ से लगे हाइवे में खसरा क्रमांक 1280 में जमीन समतल कर प्लाटिंग की बिसात तैयार की जा रही है सूत्रों की मानें तो रूंगटा और आसपास से सटे पूरी जमीनें खोखली हो चुकी हैं और उनमें अब बसाहट बनाने की तैयारी की जा रही है। भूमाफिया एकड़ो में जमीन लेकर उसे प्लाटिंग कर बेंचते हैं जिसमें रेरा और टीएनसीपी जैसे नियम लागू होते हैं किंतु सम्बंधित माफिया द्वारा इस बात को नजरअंदाज कर जमीन बेचा जाता है। जमीन क्रेता इस बात का जरूर ध्यान रखे कि गोफ में जमीन खरीदने और वहाँ पर घर बनाने में आगामी समय मे क्या हश्र हो सकता है।

Divya Kirti
Author: Divya Kirti

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!