दिव्यकीर्ति सम्पादक-दीपक पाण्डेय, समाचार सम्पादक-विनय मिश्रा, मप्र के सभी जिलों में सम्वाददाता की आवश्यकता है। हमसे जुडने के लिए सम्पर्क करें….. नम्बर-7000181525,7000189640 या लाग इन करें www.divyakirti.com ,
7k Network

होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.
7k Network

पटवारी ने कार्यालय में घुसकर शासकीय रिकार्ड़ फाड़ने का किया प्रयास, कमिश्नर से मध्यप्रदेश लिपिक कर्मचारी संघ ने की शिकायत

कहा- पटवारी जब तक निलंबित नहीं, तब तक तहसील का वित्तीय कार्य संभव नहीं

शहडोल।।

जिले के तहसील कार्यालय सोहागपुर में पदस्थ एक पूर्व निलंबित पटवारी के विरुद्ध मध्यप्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ की संभाग ईकाई ने कमिश्नर राजीव शर्मा से शिकायत की। शुक्रवार को की गई इस शिकायत में पटवारी सत्यनारायण मिश्रा पर संघ ने गंभीर आरोप लगाया है। लिखित शिकायत में बताया गया है कि, उक्त पटवारी ने तहसील कार्यालय के नाजरात शाखा में घुसकर शासकीय रिकार्ड फाडने की कोशिश व उसे खुर्दबुर्द करने एवं शासकीय कार्य में व्यवधान उत्पन्न कर मारपीट की है। जिसके विरुद्ध त्वरित कार्रवाई किए जाने की मांग की गई है।

यह है पूरा मामला

उल्लेख किया गया है कि, बीते 16 अगस्त को 5.30 बजे तहसील कार्यालय के नायब नाजिर महेश सोनी नाजरात शाखा में रिकान्सीलेशन का कार्य कर रहे थे। इस दौरान कैशबुक, बिल, रजिस्टर आदि आवश्यक दस्तावेज टेबल पर फैले हुए थे। तभी उक्त पूर्व निलंबित पटवारी वहां अन्दर घुसकर रिकार्ड फाड़ने की कोशिश करने लगा। उन्हें बाहर जाने के लिये कहा गया, तो तैश में आकर वह गाली गलौज करते हुए शासकीय रिकार्ड खुर्दबुर्द कर दिये।

वकीलों और कर्मचारियों देखा है सबकुछ

इतना ही नहीं उक्त पटवारी ने शासकीय कार्य में व्यवधान उत्पन्न करते हुए मारपीट भी की। बताया गया है कि, उक्त घटना को कई अधिवक्ता एवं कर्मचारियों ने देखा है, जिसका पंचनामा भी तैयार कर शिकायत पत्र के साथ कमिश्नर को दिया गया है। यह भी लेख है कि, उक्त स्थिति को देखते हुए संबंधित कर्मचारी काफी भयभीत है और ऐसी स्थिति में नाजरात शाखा का कार्य नहीं कर सकता।

इसलिए आई यह नौबत

उक्त कृत्यों की शिकायत संबधित कर्मचारी ने कलेक्टर, एसडीएम एवं तहसीलदार से भी की। किन्तु कोई कार्रवाई नहीं किए जाने के चलते कर्मचारी संगठन में ज्ञापन दिए जाने की स्थिति निर्मित हुई। बताया गया है कि, उक्त कर्मचारी अमर शहीद देवेन्द्र सोनी का चाचा है एवं स्वतंत्रता दिवस में शासन, प्रशासन सम्मानित भी होते हैं।

करता है नेतागिरी

किन्तु, प्रशासन के निचले स्तर का कर्मचारी ने स्वतंत्रता दिवस के ठीक दूसरे दिन शहीद के परिवार को अपमानित किया और गाली-गलौज कर मारपीट की, जो माफी के योग्य नहीं है। उक्त पटवारी वर्तमान में निलंबन से बहाल हो कार्यालय में अटैच है व उसकी विभागीय जांच चल रही है। बावजूद इसके, नेतागिरी करते हुए कार्यालय में वीडियो बनाकर शिकायत करते रहते हैं।

रखी निलंबन की मांग

इसकी पुष्टि तहसील में पैरवी करने वाले सभी अधिवक्ताओं, कर्मचारियों व जनप्रतिनिधियों से की जा सकती है। लिपिक संघ ने सत्यनारायण मिश्रा पिता स्व. रामरसीले मिश्रा, निवासी निगम कालोनी, शहडोल निलंबित किए जाने की मांग की है। यह भी कहा- जब तक उक्त पटवारी को निलंबित नहीं किया जाता, तब तक तहसील कार्यालय का वित्तीय कार्य संभव नहीं हो सकेगा।

वहीं दूसरी ओर इन आरोपों को सिरे से नकारते हुए पटवारी सत्यनारायण मिश्रा ने निराधार और असत्य बताया है। उन्होंने बताया कि, हम सभी पटवारियों को दो माह से वेतन नहीं मिला है। इसी बात की जानकारी मैं लेने लगा, तो मेरे साथ उक्त नाजिर ने अभद्रता की। जिसकी शिकायत मैंने 16 अगस्त को तहसीलदार एवं 18 को कोतवाली थाना में की है।

Divya Kirti
Author: Divya Kirti

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!