दिव्यकीर्ति सम्पादक-दीपक पाण्डेय, समाचार सम्पादक-विनय मिश्रा, मप्र के सभी जिलों में सम्वाददाता की आवश्यकता है। हमसे जुडने के लिए सम्पर्क करें….. नम्बर-7000181525,7000189640 या लाग इन करें www.divyakirti.com ,
7k Network

होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.
7k Network

शिवराज के कुशासन से मप्र चली गई खाई में:-कमलेश्वर पटेल

 

झूँठ और जुमलों से लिखी जा रहा भाजपा के जन आशीर्वाद यात्रा की बिसात

कांग्रेस की जन आक्रोश यात्रा से बौखलाई भाजपा सरकार

माफ करो शिवराज! अबकी बार भाजपा साफ

एक तरफ महाराज,एक तरफ नाराज एक तरफ शिवराज!

कौन होगा मुख्यमंत्री का दावेदार???

शहडोल।।

एक तरफ नाराज एक तरफ महाराज और एक तरफ शिवराज इस पूरे अंतरे को पूर्ण करने में भाजपा सरकार कशमकश में है। मुख्यालय की गलियारों में ये शोर तो जरूर है किंतु जीतने के बाद मुख्यमंत्री का चेहरा कौन होगा इस विषय पर अभी भी प्रश्न चिन्ह लगा हुआ है।
पार्टी से बगावत करने वाले महाराज भी अपने आपको मुख्यमंत्री की कतार में रख रहे हैं वहीं मंत्रीमंडल के कई नेताओं में आपसी नाराजगी है तो इन सबके इतर शिवराज हैं खैर आगामी कुछ महीने में परिणाम आ ही जाएंगे कि कांग्रेस की जनआक्रोश यात्रा किफायती थी या भाजपा का जन आशीर्वाद यात्रा।
शहडोल से बुढार पहुँची यात्रा में बुढार में प्रेस वार्ता के दौरान कमलेश्वर पटेल ने शिवराज सरकार पर जमकर साधा निशाना।
शहडोल के बुढार में कल रविवार को पूर्व मंत्री और कांग्रेस के विधायक कमलेश्वर पटेल ने एक प्रेस वार्ता में प्रदेश की शिवराज सरकार पर जमकर निशाना साधा और पत्रकारों को संबोधित करते हुये कमलेश्वर पटेल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी किस बात की जन आशीर्वाद यात्रा निकाल रही है। यह समझ‌ से परे हैं इनके पास सिवाय झूठी घोषणा और झूँठ बोलने के अलावा कुछ नही है।
प्रदेश में कई घोषणाएं आज भी अधूरी हैं शिवराज सरकार को घोषणावीर सरकार कहा जाए तो इसमें कोई संशय नही।

नौकरी नही, व्यापम में घोटाला आदिवासियों पर अत्याचार,किसानों ने की आत्महत्या…

पिछले पाँच वर्षों में इन्होंने सरकारी भर्ती में जिस तरह से धांधली की है वह किसी से छिपा नही इनके द्वारा किया गया व्यापम घोटाला पूरे विश्व मे चर्चा का पर्याय रह चुका है यह सिलिसला थमने का नाम नही ले रहा और अभी हाल ही में भाजपा विधायक के कालेज में आयोजित हुए व्यापम परीक्षा में कई परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए जिसमे इन्होंने कई क्षात्रों के फर्जी विकलांग प्रमाण पत्र बनवाए थे जाँच और हल्ला के बाद पता चला कि उनमें से कोई विकलांग था ही नही।
शिवराज सरकार आदिवासियों का हितैषी बनती है सीधी कांड में आदिवासी पर किया गया पेशाब से पूरे मध्यप्रदेश में चर्चा का विषय रहा इस मामले में राजीनतिक रोटी सेंकते हुए शिवराज द्वारा आदिवासी को बुलाकर इवेंट कराकर माफी मांगने का ड्रामा पूरे मध्यप्रदेश के सामने दिखा।
मुख्यमंत्री अपनें आप को किसान पुत्र बताते हैं जबकि प्रदेश में किसान परेशान है हजारों किसानों नें आत्महत्या की है कांग्रेस पार्टी यह रैली इसलिए निकाल रही है ताकि जनता के मुद्दे सामने आए पूर्व मंत्री ने कहा कि आज पंचायत से लेकर मंत्रालय तक हर जगह भ्रष्टाचार है। प्रदेश का हर व्यक्ति या तो भ्रष्टाचार का शिकार है भ्रष्टाचार का गवाह है। जब से प्रदेश में विधानसभा चुनाव सामनें आये हैं… मुख्यमंत्री की घोषणा करने की मशीन डबल स्पीड से चल रही है.. शिवराज सिंह तो ऐसे हैं कि झूठ को भी शर्मा देते हैं वह जानते हैं कि उनकी सरकार तीन महीने की मेहमान है इसलिए कुछ भी बोल दो कुछ भी कह दो।

ये रहे उपस्थित

कार्यक्रम में प्रभारी महाराष्ट्र सरकार में मंत्री रही यशोमती ठाकुर, जिला कांग्रेस कमेटी शहडोल के अध्यक्ष सुभाष गुप्ता,जिला कार्यवाहक अध्यक्ष बलमीत सिंह खनूजा,वरिष्ठ नेता रविन्द्र तिवारी,ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष सुजीत सिंह ,प्रदीप सिंह,विद्याभूृण शुक्ला, केपी सिंह,कमलेश शर्मा,भानू दीक्षित, उमा धुर्वे सहित सैकडों कांग्रेसी मौजूद थे।

Divya Kirti
Author: Divya Kirti

ये भी पढ़ें...

error: Content is protected !!