दिव्यकीर्ति सम्पादक-दीपक पाण्डेय, समाचार सम्पादक-विनय मिश्रा, मप्र के सभी जिलों में सम्वाददाता की आवश्यकता है। हमसे जुडने के लिए सम्पर्क करें….. नम्बर-7000181525,7000189640 या लाग इन करें www.divyakirti.com ,
7k Network

होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.
7k Network

महिला होने का फायदा उठा रही शांति,जिम्मेदारों का भी मिल रहा प्राश्रय

 

 

खुद की पुत्री को बनाया ढाल, वकील पुत्र के जमीन को हथियाने का षडयंत्र

कब्जे की फिराक में जुटी महिला भृत्य

उल्टा चोर कोतवाल को डांटे, अपराधी निरपराध को डांटे

शहडोल।।बुढार

शहडोल जिले में जमीन का धंधा एक ऐसा धंधा हो चुका है जहाँ कुछ ही समय मे इंसान फर्श से अर्श का सफर तय कर लेता है। इस जमीन के व्यापार ने शहर के हर कोने और नुक्कड़ में नए नए दलालों को जन्म दिया है यह जमीन का काम इतना पेचीदा है कि नक्शे से लेकर तरमीम और पजेशन में पूरा खेल होता रहता है। कोयलांचल में स्थापित इंडस्ट्री और कोल कम्पनियों के कारण जमीन की कीमतें आज आसमान छू रही है। और उन बढ़ती कीमतों के कारण व्यक्ति का लालच भी बढ़ता जा रहा है और अपने पर किए गए परोपकार को कृतघ्नता की बजाय कृतज्ञ व्यवहार करता है ऐसा ही एक माँमला तहसील में पदस्थ महिला भृत्य का सामने आया है जहाँ
धनपुरी वार्ड क्रमांक 1 के निवासी देवेंद्र जैन पीड़ित होकर थाने से लेकर वरिष्ठ अधिकारियों को शिकायत किया किन्तु उल्टा पीड़ित पक्ष के खिलाफ ही थाने के जिम्मेदार मुकदमा करने की घुड़की भर रहे हैं। पीड़ित देवेंद्र जैन ने बताया कि मैं हार्ट पेशेंट हूँ महिला मुझे मानसिक प्रताड़ित कर रही है भविष्य में कुछ होता है तो उसकी जवाबदेही महिला व अन्य जिम्मेदारों की होगी।

क्या है पूरा मामला…

देवेंद्र जैन ने शिकायत कर लिखा है कि माधुरी पैकरा वर्तमान आयु 28 वर्ष निवासी बुढार वार्ड 9 में किराए से रहती है जिसकी मा शांति बाई पैकरा तहसील बुढार में भृत्य के पद पर कई कई वर्षों से पदस्थ है। धनपुरी वार्ड 1 में मुझसे जमीन खरीदी थी और अब कब्जा मेरे पुत्र के जमीन में कर रही है यही नही भूमि पर बने बाउंड्रीवाल भी स्वयं तोड़ दी है।

देवेन्द्र जैन ने बताया कि 29.10.2023 को सुबह कथित माधुरी अपनी माँ शांति पैकरा के साथ मिलकर कई मजदूर मिस्त्रियों को लेकर अपनी खरीदी भूमि से काफी हटकर धनपुरी स्थित मेरी प‌ट्टे की भूमि 80/5/3/2/1/1/1 के अंश भाग पर कब्जा करने हेतु नींव खोद रही है, मना करने पर नहीं मानती, शाति पैकरा धमकी देती है कि, तुम्हे आदिवासियों, औरतो वाले केश में फंसवा दूंगी, माधुरी की ओर से बाउंड्री बनवाकर कब्जा करूंगी। ये जबरन कब्जा करने को लेकर विवाद कर रही हैं जिससे शांति भंग होने की संभावना है। मैं जैन सामान्य जाति का शांतिप्रिय व्यक्ति हूं, विवाद नहीं करना चाहता ।

विभाग का मिल रहा प्राश्रय

यह है कि शांती बुढ़ार तहसील में चपरासी है और राजस्व विभाग के बहुत से कर्मचारी उसके प्रभाव में हैं। उसके द्वारा कब्जा किये जाने वाले जमीन के पूर्व में देवेन्द्र कुमार जैन की बहना (कुसुम बाई है) की बाढी ख.न.80/5/6/1 पश्चिम में 16 फीट 6 इंच चौड़ा निस्तारू रास्ता, व उसके बाद रंजना सिंह का प्लाट उत्तर में प्रार्थी की भूमि पर वंदना मिश्रा का प्लाट व दक्षिण में 21 फीट चौड़ा निस्तारू रास्ता व तत्पश्चात् प्रार्थी के परिवारजन की भूमि है।

किन्तु माधुरी व शांति आज धनपुरी में बढ़ती जमीन की कीमतों के लालच में आकर अब उक्त जमीन को न लेकर अन्यत्र जमीन लेने का दबाव बना रही है।

Divya Kirti
Author: Divya Kirti

ये भी पढ़ें...

7k Network
error: Content is protected !!