दिव्यकीर्ति सम्पादक-दीपक पाण्डेय, समाचार सम्पादक-विनय मिश्रा, मप्र के सभी जिलों में सम्वाददाता की आवश्यकता है। हमसे जुडने के लिए सम्पर्क करें….. नम्बर-7000181525,7000189640 या लाग इन करें www.divyakirti.com ,
7k Network

होम

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.
7k Network

अजब-गजब है यह गाँव, जहाँ पंचायत में दो-दो सचिव मौजूद हैं

 

एक नाम के लिए दूसरा काम के लिए

शहडोल ।। सरई कापा

हमने देश-प्रदेश में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की गैर मौजूदगी में डिप्टी सीएम और डिप्टी पीएम को कार्य करते देखा और सुना है किंतु अब यह चलन ग्राम पंचायतों में भी है हद तो तब हो गई जब जनपद सीईओ और जिला सीईओ भी अब तक इस ओर ध्यान आकृष्ट नही किए। हलाकि सचिव की गैर मौजूदगी में जीआरएस को प्रभार देने व ग्राम विकास का कार्य लेने के लिए जनपद व जिले में प्रावधान है किंतु एक ही  पंचायत में दो-दो सचिव अलग -अलग दायित्वों का निर्वहन करना किसी मजाक से कम नही लगता । हमने जब अपने चिर-परिचित लोगों से इस मसले पर जानकारी ली तो उनका कहना था कि पुराने वाले सचिव छोड़ना नही चाहते और नए वाले का कोई महत्व नही।
ग्राम पंचायतें सरईकापा का विकास इन्ही कुछ उलझनों में उलझा हुआ है ।हलाकि चुनावी दौर और ट्रांसफर नीति की ओर रुख करें तो सचिव सरोज त्रिपाठी एक अरसे से यहाँ पदस्थ हैं जिन्हें अब अन्यत्र स्थानान्तरण की आवश्यकता है किंतु इनके द्वारा नए सचिव को न ही प्रभार दिया जा रहा है और न ही उनके हाँथ में कोई वित्तीय प्रभार है ताकि ग्राम पंचायत के अन्य विकास कार्यो की बेहतर समीक्षा किया जा सके। इस ग्राम पंचायत के चंद चिन्हित दलाल हमेशा ही इस ग्राम विकास में अड़चन पैदा किए हैं यही नही कुछ तो ऐसे सक्रिय हैं हो पंचायत के होते हुए भी इस पंचायत में खासा दखल रखते हैं।
कई ऐसे काम है जिनके पूर्ण होने के आसार हैं किंतु विवादों के कारण न ही यहाँ की सड़क व्यवस्था दुरुस्त हो पा रही है न ही पेयजल व्यवस्था और न ही ग्राम पंचायत निवासियों की बुनियादी सुविधाएं।

इनका कहना है…
मैं दो बार लिख के दे चुका हूँ मुझे प्रभार नही दे रहे हैं अपना सिर्फ पैसा निकालने के लिए प्रभार लिए है तो मैं क्या करूँ,सचिव टांडिया

फोन लगाने पर नही लगा,ममता मिश्रा जनपद सीईओ

Divya Kirti
Author: Divya Kirti

ये भी पढ़ें...

7k Network
error: Content is protected !!